कोलकाता में घूमने जाने लायक प्रमुख जगहें kolkata mein ghumne jane layak pramukh jagahen

कोलकाता अपने आप में प्राचीन विरासत और संस्कृति को समेटे हुए हैं।यहां पर घूमने के लिए भी कई जगह है जो भारत ही नहीं पूरे विश्व में प्रसिद्ध है।हुगली नदी के तट पर बसा यह शहर भारत के सबसे ज्यादा जनसंख्या वाले शहरों में तीसरे नंबर पर आता है। यह प्राचीन काल में अंग्रेजों की राजधानी हुआ करता था। जिसके कारण यहां पर अंग्रेजो के द्वारा बनाई हुई कई सुंदर और प्रसिद्ध इमारतें आज भी मौजूद हैं।

पर्यटन के लिहाज से भी दिल्ली और मुंबई के बाद तीसरे नंबर पर यह सबसे ज्यादा प्रसिद्ध है। प्राचीन स्वतंत्रता संग्राम में भी कोलकाता के स्थान प्रमुखता से लिया जाता है। यहां पर कई प्रकार के सांस्कृतिक विरासत में मौजूद हैं। कोलकाता शहर में आपको कई प्रकार की संस्कृतियों का मेल देखने को मिल जाता है जिसकी वजह से यहां पर पर्यटन की असीम संभावना उपलब्ध है।

तो आइए दोस्तों जानते हैं कोलकाता के कुछ प्रमुख सर्वाधिक घूमने जाने लायक जगहों के बारे में

Table of Contents

कोलकाता के बारे में एक नजर

कोलकाता की जनसंख्या कितनी है?( Kolkata ki jansankhya kitni hain in hindi)

2 करोड़ 29 लाख

कोलकाता की भाषा क्या है?(kolkata ki bhasha kitni hain in hindi)

हिन्दी, अंग्रेजी, बंगाली(मातृभाषा)

कोलकाता का क्षेत्रफल कितना है?(kolkata ka chhetrafal kitna hain in hindi) 

206.1 वर्ग किलोमीटर

कोलकाता में घूमने लायक कुछ प्रमुख जगहें (kolkata mein ghumne layak pramukh jagahen in hindi)

कोलकाता का प्रसिद्ध हावड़ा ब्रिज( kolkata ka prasiddh hawda bridge in hindi) 

hawda bridge in Kolkata image
image credit by pixabay

हावड़ा और कोलकाता को जोड़ने वाला हावड़ा ब्रिज पर्यटकों के आकर्षण का प्रमुख केंद्र है। यह दुनिया के सबसे बड़े पुलों में से एक माना जाता है। यह स्टील और लोहे से मिलकर बनाया गया है। यह ब्रिज 72 फीट चौड़ा और लगभग 15 फीट लंबा है। शाम के समय इसकी अद्वितीय सुंदरता को देखने के लिए काफी अधिक संख्या में पर्यटक हावड़ा ब्रिज के नीचे एकत्रित होते हैं। हावड़ा ब्रिज पर लाइटिंग का शानदार शो भी प्रतिदिन चलता है।हावड़ा ब्रिज पर्यटन के क्षेत्र के साथ-साथ परिवहन के क्षेत्र में भी कोलकाता में अभूतपूर्व भूमिका निभाता है। यहां पर लगभग प्रतिदिन 15000 से अधिक वाहनों का आवागमन इस पूल के माध्यम से होता है।

कोलकाता का प्रसिद्ध पर्यटन स्थल विक्टोरिया मेमोरियल(kolkata ka prasiddh paryatan sthal Victoria memorial in hindi)

victoria mahal image in hindi
image credit by pixabay

कोलकाता के मध्य में स्थित 64 एकड़ में विक्टोरिया मेमोरियल स्थापित है इसके चारों तरफ खूबसूरत बगीचे से सजावट की गई है। रानी विक्टोरिया की स्मृति में भारत पर 25 साल शासन करने के पश्चात जश्न के लिए बनाए गए इस महल की खूबसूरती देखने लायक है। सफेद संगमरमर से निर्मित यह महल कोलकाता के सबसे प्रमुख आकर्षणों में से एक है।

महल के मध्य में कांच की विक्टोरिया की प्रतिमा स्थापित है। इसके साथ-साथ शाम के समय यहां पर खूबसूरत डेकोरेटिव लाइटों से महल की सजावट होती है जिसे देखने के लिए देश-विदेश से पर्यटक यहां पर आते हैं। यहां पर कई ब्रिटिश कालीन चीजें भी स्मृति के रूप में रखी हुई है।

विक्टोरिया मेमोरियल खुलने का समय

प्रातः 10:00 बजे से लेकर शाम 5:00 बजे तक

विक्टोरिया मेमोरियल की एंट्री फीस कितनी है?

प्रति व्यक्ति ₹20 (भारतीय)

प्रति व्यक्ति ₹200 (विदेशी)

विक्टोरिया मेमोरियल गार्डन एरिया एंट्री फीस

प्रति व्यक्ति ₹10

विक्टोरिया मेमोरियल लाइट एंड साउंड शो की एंट्री फीस

प्रति व्यक्ति ₹20

प्रति बालक ₹10

विक्टोरिया मेमोरियल का हेल्पलाइन नंबर

03322231890

कोलकाता का प्रमुख धार्मिक पर्यटन स्थल बिरला मंदिर( Kolkata ka Pramukh dhramik paryatan sthal Birla Mandir in Hindi)

Birla mandir in kolkata
image credit by commons.wikimdeia

कोलकाता में राधा और कृष्ण को समर्पित यह मंदिर बेहद भव्य और खूबसूरत है। कोलकाता में यह मंदिर महाकाली मंदिर के बाद सबसे बड़ी आस्था का केंद्र है। सन 1974 में इस मंदिर की निर्माण कार्य प्रारंभ हुआ परंतु इसे पूरा करने में लगभग 26 वर्षों का लंबा समय लग गया। परंतु निर्माण कार्य पूर्ण होने के पश्चात यह बेहद ही भव्य मंदिर कोलकाता के साथ-साथ पूरे देश में प्रसिद्ध हो गया। 104 एकड़ के क्षेत्र में फैले हुए इस विशाल मंदिर में राधा कृष्ण की मूर्तियों के अलावा भगवान हनुमान भगवान श्री राम भगवान शंकर और देवी दुर्गा की 10 अवतारों की मूर्तियां विराजमान है।

सफेद नक्काशी दार संगमरमर से तराशे गए इस मंदिर को देखने के लिए कोलकाता आने वाले सभी पर्यटक एक बार जरूर यहां पर आते हैं। इस मंदिर में विशेष तौर पर जन्माष्टमी के समय पर बेहद ही भव्य और सुंदरता से परिपूर्ण रूप से सजावट की जाती है।काफी अधिक संख्या में श्रद्धालुओं की भीड़ यहां पर जन्माष्टमी के उत्सव को मनाने के लिए एकत्रित होती है।

बिरला मंदिर खुलने का समय ( Birla Mandir khulne ka samay in hindi)

प्रातः 5:30 बजे से लेकर 11:00 बजे तक

साय: 4:30 बजे से लेकर 9:00 बजे तक।

कोलकाता का मशहूर पर्यटन स्थल फोर्ट विलियम( kolkata ka mashur paryatan sthal fort viliyam in hindi)

fort William in kolkata
image credit by whatsap

72 एकड़ के क्षेत्र में फैला यह महल फोर्ट विलियम तृतीय की याद में बनाया गया था। अपनी मेहरबदर खिड़कियों के लिए विश्व प्रसिद्ध महल कोलकाता के प्रमुख पर्यटन स्थलों में से एक है। हुगली नदी के पूर्वी तट पर स्थित यह महल 1696 ईस्वी में बनाया गया।

बाद में इसमें खामियों के कारण एक अष्टकोण भवन का निर्माण किया गया। 

फोर्ट विलियम कोलकाता का ब्लैक होल भी कहा जाता है। वर्तमान समय में या पूर्वी  कमान के मुख्यालय के रूप में कार्य करता है। दोस्तों जब भी आप कोलकाता घूमने के लिए निकले तो एक बार फोर्ट विलियम जरूर जाएं।

फोर्ट विलियम खुलने का समय( fort viliyam khulne ka samay in hindi)

प्रातः 10:00 बजे से लेकर 5 बजे तक

फोर्ट विलियम का प्रवेश शुल्क( fort viliyam ka Pravesh shulk in Hindi)

निशुल्क।

कोलकाता का प्रसिद्ध भारतीय संग्रहालय( kolkata ka prasiddh bhartiya musium in Hindi)

Indian musium kolkata image
image credit by pixabay

दोस्तों अगर आप पुरानी चीजों को देखने के शौकीन है तो कोलकाता में आपकी मनपसंद जगह भारतीय संग्रहालय हो सकती है। दुनिया के 9 सबसे प्राचीन संग्रहालय में से एक भारतीय संग्रहालय अपने आप में अति प्राचीन संग्रहालय है। इस संग्रहालय की स्थापना सन 1814 ईसवी में की गई थी। तब से लेकर आज तक यह अपनी प्राचीन वस्तुओं के संग्रहण करने के लिए विश्वविख्यात है।

यहां पर आपको अनेक प्रकार के मुगल स्मृतियां, मिस्र की प्राचीन मम्मी, अनेक प्रकार के प्राचीन आभूषण, प्राचीन अस्त्र शस्त्रों, और प्राचीन वस्तुओं का अनुपम संग्रह देखने को मिल जाएगा। पुरातत्व चीजें देखने के शौकीन लोगों के साथ साथ यहां पर ऐतिहासिक चीजें देखने के शौकीन लोग भी काफी अधिक संख्या में आते हैं। स्पेशल संग्रहालय में पुस्तकालय और एक प्राचीन किताब की दुकान भी मौजूद है।

भारतीय संग्रहालय खुलने का समय( bhartiya musium khulne ka samay in Hindi)

प्रातः 10:00 बजे से लेकर 7:30 बजे तक।

भारतीय संग्रहालय का प्रवेश शुल्क( bhartiya musium ka Pravesh shulk in Hindi)

प्रति व्यक्ति ₹20 (भारतीय)

प्रति व्यक्ति ₹500 (विदेशी)

कोलकाता में घूमने की जगह पार्क स्ट्रीट( kolkata mein ghumne layak jagah park Street in Hindi)

park street in kolkata
image credit by subhadeep

पार्क स्ट्रीट की चहल-पहल को देखते हुए यह कोलकाता में एक प्रमुख पर्यटन स्थल बन चुका है।यहां पर स्थानीय लोगों के साथ-साथ विदेशी पर्यटकों के लिए भी जरूरत की लगभग सारी चीजें यहां उपलब्ध होती हैं। खाने पीने की लजीज व्यंजनों की दुकान, लग्जरी होटल्स, बड़े-बड़े शॉपिंग मॉल्स आदि सब कुछ यहां पर उपलब्ध है।

यहां पर 24 घंटे चहल-पहल रहती है। उसे कभी ना सोने वाला शहर माना जाता है।अगर आप दोस्तों के साथ कोलकाता घूमने का प्लान कर रहे हैं तो पार्क स्ट्रीट जाना ना भूलें।

कोलकाता का प्रसिद्ध मार्बल पैलेस( kolkata ka prasiddh marble palace in Hindi)

marble palace image
image credit by wikimedia

खूबसूरत संगमरमर के पत्थरों के द्वारा तराशा गया यह महल किसी अजूबे से कम नहीं है। मार्बल पैलेस की वास्तुकला अद्भुत और आश्चर्यजनक है। सन् 1835 में राजा राजेंद्र मलिक द्वारा बनवाया हुआ यह महल वर्ष भर में हजारों पर्यटकों की अगवानी करता है। यह महल अत्यंत प्राचीन होने के साथ-साथ ऐतिहासिक भी है।

इस महल परिसर में ही एक मार्बल चिड़ियाघर भी है जहां पर दुर्लभ प्रजाति के वन्यजीवों को संरक्षण प्रदान किया गया है।यहां पर पर्यटकों के साथ-साथ इतिहास के प्रेमी लोग भी काफी अधिक संख्या में आते हैं।

मार्बल पैलेस का प्रवेश शुल्क( marble palace ka pravesh shulk in hindi)

प्रवेश निशुल्क

मार्बल पैलेस के खुलने का समय( marble palace ke khulne ka samay in Hindi)

प्रातः 10:00 से साय: 4:00 बजे तक

कोलकाता का प्रसिद्ध जूलॉजिकल पार्क अलीपुर( kolkata ka prasiddh zoological park Alipur in Hindi)

alipur zoological park
image credit by sandeep kr yadav

दोस्तों अगर आप कोलकाता में 1 दिन का पूरा समय व्यतीत करना चाहते हैं तो जूलॉजिकल गार्डन आपके लिए सबसे अच्छा समय है। अलीपुर जूलॉजिकल पार्क को भारत का सबसे पुराना चिड़ियाघर माना जाता है।45 एकड़ के विशाल क्षेत्र में फैला हुआ यह चिड़ियाघर बच्चों के साथ साथ प्रकृति प्रेमियों के लिए भी एक आदर्श स्थान हैं।

यहां पर आपको कई प्रकार के दुर्लभ जीव जंतुओं के साथ-साथ दुर्लभ प्रजाति के बाघ भी आपको देखने को मिलेंगे।अलीपुर जूलॉजिकल पार्क को कोलकाता के सबसे अच्छे पर्यटन केंद्रों में से एक माना जाता है।

कोलकाता में जूलॉजिकल पार्क अलीपुर की एंट्री फीस कितनी है?( Kolkata mein zoological park Alipur ki entry kitni Hain in Hindi)

बच्चों का शुल्क ₹10

शनिवार रविवार और छुट्टी के दिन प्रति व्यक्ति ₹30 

अन्य दिन प्रति व्यक्ति  ₹25

वीडियो कैमरा 250 रुपए

मछलीघर प्रति व्यक्ति ₹5

अलीपुर जूलॉजिकल पार्क का हेल्पलाइन नंबर क्या है?

03324791150

03324399391

अलीपुर जूलॉजिकल पार्क खुलने का समय क्या है?( Alipur zoological park khulne ka samay kya hain in hindi?)

प्रातः 9:00 बजे से लेकर 5 बजे तक।

विशेष

अलीपुर जूलॉजिकल पार्क में बृहस्पतिवार को अवकाश रहता है।

कोलकाता का प्रसिद्ध पर्यटन स्थल जैन मंदिर( kolkata ka prasiddh paryatan sthal jain Mandir in Hindi)

Kolkata ka Jain mandir
image credit by wikimedia

जैन धर्म के चारों जैन तीर्थ करो को समर्पित यह मंदिर जैन समुदायों के लिए विशेष आस्था का केंद्र है। यह मंदिर एकता और संप्रभुता का भी प्रतीक है। इस मंदिर की वास्तुकला अत्यंत आश्चर्यजनक और भव्य है। जटिल नक्काशी और कांच से निर्मित यह मंदिर किसी आश्चर्य से कम नहीं है। कोलकाता में अगर आप घूमने का मन बना रहे हैं तो एक बार आपको यह प्रसिद्ध जैन मंदिर जरूर जाना चाहिए।

जैन मंदिर खुलने का समय( Jain Mandir khulne ka samay in Hindi)

प्रातः 6:00 बजे से लेकर शाम 9:00 बजे तक।

कोलकाता में घूमने जाने लायक अन्य प्रसिद्ध पर्यटन स्थल( Kolkata mein ghumne jaane layak anya prasiddh paryatan sthal in Hindi)

कोलकाता का मशहूर ईडन गार्डन ( eden garden)

न्यू टाउन इको पार्क( new town eco park)

दक्षिणेश्वर काली मंदिर( dachineshwar kaali Mandir)

बेलूर मठ( beloor math)

निक्को पार्क( Nikko park)

बिरला तारामंडल( Birla taramandal)

सेंट पॉल कैथ्रेडल चर्च( sent Paul cathedral Church)

मिलेनियम पार्क( milenium park)

एक्वातिका वॉटर पार्क(aquatika water park)

बंडल चर्च( bundel church)

वेट ओ वाइल्ड वाटर पार्क( wait o wild water park)

रवींद्र सेतु( ravindra setu)

कोलकाता घूमने जाने का सबसे अच्छा समय कौन सा है?( Kolkata mein ghumne jaane ka Sabse achha samay kaun sa hain in Hindi?)

कोलकाता में घूमने का अगर आपने मन बनाया है तो आपके लिए जाना जो बेहद जरूरी है कि यहां पर जाने का सबसे आदर्श मौसम कौन सा है? दोस्तों अगर आप यहां पर जाना चाहते हैं तो सबसे अच्छा समय अक्टूबर से मार्च के मध्य का माना जाता है।इसकी सबसे खास वजह है कि शरद ऋतु में ही यहां का सबसे बड़ा पर्व दुर्गा अष्टमी मनाया जाता है। चारों तरफ दुर्गा जी के भव्य पंडाल आपको देखने को मिल जाएंगे।

इसके साथ-साथ कोलकाता के अन्य पूर्व भी इस शरद ऋतु में ही बनाए जाते हैं। गर्मी के दिनों में अगर आप जाना चाहते हैं तो आप मार्च से लेकर अगस्त तक के बीच में भी जा सकते हैं हालांकि इस समय वहां का तापमान कुछ अधिक होता है जिससे आपको यात्रा में असुविधा हो सकती है।

कोलकाता में का स्थानीय भोजन क्या है?( Kolkata ka sthaniya bhojan kya Hain in Hindi?)

दोस्तों कोलकाता समुद्र तट के किनारे और हुगली नदी के पूर्वी तट पर बसा हुआ एक अत्यंत प्राचीन और खूबसूरत शहर है। यहां पर आपको लगभग सभी प्रकार के लजीज व्यंजनों की संपूर्ण रेंज मिल जाती है। परंतु यहां का खास और स्थानीय भोजन चावल और मछली को माना जाता है। चावल और मछली से बनी हुई कई प्रकार की डिश है आपको आकर्षित करेंगी। इसके साथ-साथ अगर आप प्योर वेजीटेरियन है तो यहां पर आपको कई प्रकार के वेजीटेरियन फूड भी आसानी से उपलब्ध होते हैं।

कोलकाता में कहां रुके?( Kolkata mein kahan ruken?)

कोलकाता मुंबई और दिल्ली के बाद तीसरा सबसे बड़ा शहर है यहां पर अगर आप रुकना चाहते हैं तो लो बजट से लेकर हाई बजट तक के होटल आसानी से उपलब्ध है। कोलकाता के पार्क स्ट्रीट में बने हुए आलीशान होटल आप की अगवानी करने के लिए हमेशा तैयार रहते हैं।

कोलकाता कैसे पहुंचे?( Kolkata kaisen pahuchen?)

ट्रेन के द्वारा कोलकाता कैसे पहुंचे?( Train dwara kolkata kaisen pahuchen?)

अगर आप ट्रेन के माध्यम से कोलकाता पहुंचना चाहते हैं तो हम आपको जानकारी दे दे कि यहां के दो प्रमुख रेलवे स्टेशन हावड़ा और सियालदह है। दोनों प्रमुख रेलवे स्टेशन भारत के प्रमुख शहरों से अच्छी प्रकार जुड़े हुए हैं। उत्तर पूर्वी रेलवे का यह प्रवेश द्वार माना जाता है।

बस के माध्यम से कोलकाता कैसे पहुंचे?(bas ke madhyam se kolkata kaisen pahuchen?)

कोलकाता सड़क परिवहन से अन्य शहरों से बहुत अच्छी प्रकार से जुड़ा हुआ है। आप दिल्ली मुंबई चेन्नई लखनऊ आदि शहरों से आसानी से कोलकाता पहुंच सकते हैं। इसके साथ-साथ पश्चिम बंगाल के सभी शहरों से कोलकाता के लिए नियमित बसें उपलब्ध होती हैं।

हवाई जहाज के द्वारा कोलकाता कैसे पहुंचे?( Hawai jahaj ke dwara kolkata kaisen pahuchen in Hindi?)

हवाई जहाज से अगर आप कोलकाता आना चाहते हैं तो यहां का निकटतम एयरपोर्ट नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा है। मुख्य शहर से आपको एयरपोर्ट तक पहुंचने के लिए लगभग 20 किलोमीटर का सफर तय करना पड़ता है। इस एयरपोर्ट पर सभी प्रमुख शहरों की घरेलू उड़ानें उपलब्ध है इसके साथ साथ यूरोप देशों की भी नियमित उड़ाने उपलब्ध होती हैं।

कोलकाता का स्थानीय परिवहन कैसा है?( Kolkata ka sthaniya priwahan kaisa hain?)

सबसे बड़े शहरों में गिने जाने कारण कोलकाता का स्थानीय परिवहन अन्य बड़े शहरों की तरह ही बहुत अच्छी स्थिति में है।

कोलकाता में आपको किसी भी स्थान से नियमित टैक्सी और बसें 24 घंटे उपलब्ध होती हैं। इसके साथ-साथ यहां का मशहूर और विश्व प्रसिद्ध टांगे की सवारी का भी पर्यटक आनंद उठा सकते हैं।

तो दोस्तों यह रही कोलकाता के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी। हमें उम्मीद है कि आपको हमारा यह लेख जरूर पसंद आया होगा। हमारा यह लेख अपने दोस्तों में शेयर करना ना भूलें

 धन्यवाद

हमारे अन्य लेख

मुम्बई में घूमने लायक जगहें

क्रिसमस डे पर भारत में घूमने जाने लायक जगहें

ऑनलाइन रेलवे टिकट कैसे बुक करें ?

विदेश यात्रा पर जाने सम्बन्धी टिप्स

Leave a comment