2020 में उत्तर प्रदेश के टॉप 10 पर्यटन केंद्र

2020 में उत्तर प्रदेश 10 पर्यटन केन्द्रों में आपको खुबसूरत मंदिरों, शानदार प्राकृतिक नज़ारे , खुबसूरत जंगल |, मन को प्रफुल्लित कर देने वाले गंगा के घाट आदि पर्यटन केंद्र मिलेंगे

आप भी उत्तर प्रदेश में घुमने का मन बना चुके है तो एक बार उत्तर प्रदेश के टॉप 10 – जगहों पर जरुर जाए , तो आइये दोस्तों शुरू करते है :

ताजमहल(आगरा )

 

taaj mahal ghumne wali jagah

दोस्तों ताजमहल के बारे में तो सबने सुना होगा | ये हमारी घुमने वाली 10 प्रमुख जगहों में न १ की पोजीशन रखता है| विश्व के 7 अजूबो में शामिल ताजमहल देश के ही नही विदेश के भी पर्यटकों का आकर्षण का केंद्र रहा है | आगरा में स्थित ताजमहल एक खुबसूरत मकबरा है|

जिसे मुग़ल शाषक शाहजहाँ ने अपनी बेगम मुमताज महल की याद में बनवाया था | यहा पर आप शुक्रवार को छोडकर हर दिन ताजमहल का दीदार कर सकते है| यहाँ चांदनी रात में नज़ारा विशेष होता है | ताजमहल में आपको मुग़ल वास्तुकला का उत्क्रस्थ नमूना देखने को मिलेगा |

मीटर उंचा महल चांदनी रात में जगमगा उठता है | आप यहाँ रेल हवाई और सड़क परिवहन से आसानी से पहुंचा जा सकता है |आगरा में आप फतेहपुर सिकरी का बुलंद दरव्वाजा भी देख सकते है , जिसे भारत का सबसे बड़ा दरवाजा कहा जाता है |

Tajmahal Agra image

2. बनारस के घाट (वाराणसी) banaras ke ghaat

जब भी आप उत्तर प्रदेश टॉप 10 जगहों में घुमने की बात सोचेंगे तो बनारस आना न भूलना क्युकी यह भगवान् शिव की नगरी काशी हिन्दू धर्म में पुण्य स्थली मानी जाती है | गंगा नदी पर बसी काशी की अपनी भव्यता है, बनारस से घाट तो पूरी दुनिया के लिए आकर्षण का केंद्र है | देश विदेश से यहाँ पर्यटक वनारस के घाट देखने आते है और यहाँ आके काशिमय हो जाते है | बनारस में आपको हर जगह भगवान् शिव की ही धूम मिलेगी |

Banaras ke ghat image

यहाँ घाट पर होने वाली विशेष आरती अत्यंत मनमोहनी है | बनारस क घाटो में प्रयाग घाट , मणिकर्णिका घाट, अस्सी घाट आदि प्रमुख घाट है| घाट के किनारे चलने वाली विशेष प्रकार से सुसज्जित नावे , स्टीमर , बड़ी नावे घाट के दर्शन को अत्यधिक मनोहारी बना देती है |

दोस्तों भगवान् शिव के 12 ज्योतिर्लिंगों में एक ज्योतिर्लिंग विश्वानाथ मंदिर यही स्थित है | इसके अलावा आप यहा की मशहूर बनारशी साडी , और बनारसी पान की खरीददारी कर सकते है | वाराणसी पहुचने के लिए आपको हवाई मार्ग , सड़क मार्ग और रेल मार्ग के परिवहन आसानी से मिलते है |

3 . कतरनिया वन्यजीव अभायारहण (बहराइच )

उत्तर प्रदेश की घुमने वाली जगहों में इस अभ्यारहण का महत्वपूर्ण स्थान है | बहराइच में स्थित यह अभ्यारहण लगभग 550 वर्ग किमी के विशाल छेत्र में फैला हुआ है| जंगली पर्यटन क शौकीन पर्यटक यहा जरुर आते है | दुधवा टाइगर रिजर्व से जुदा होने कारण आप यहा टाइगर भी देख सकते है| इस विशाल वन छेत्र में आप वन्य जीवो को उनके प्राकृतिक परिवेश में देख सकते है |

utter Pradesh tourism

इसी अभ्यारहण में आप गेरुआ नदी में मगरमच्छ और गंगा डालफिन भी देख सकते है | इसका छेत्र इतना विशाल है की इस अभ्यारहण का एक छोर नेपाल सीमा से मिलता है|यहाँ का परिवेश पूरी तरह वन्य जीवन के लिए अत्यंत अनुकूल होता है | यहाँ पर पर्यटक लाइफ सफारी का भरपूर आनंद लेने आते है | यहाँ पहुचने के लिए सड़क एवं रेल मार्ग दोनों साधन उपलब्ध है |

4. झांसी का किला (झांसी) jhanshi qila

दोस्तों गर आपने टॉप 10 जगहों पर घुमने का मन बनाया है तो झांसी का किला एक बार जरुर जाना |यू तो झाँसी में घूमने क लिए बहुत सारे पर्यटन केंद्र है. पर झासी का किला अपने आप में अलग महत्व रखता है | यह किला भारतीय स्वतंत्रता संग्राम की भारतीय वीरांगना रानी लक्छमीबाई के जीवन का अभिन्न हिस्सा रहा है |

सत्रहवी सताब्दी में बने इस किले की दुर्ग रचना अत्यंत विशाल है | झांसी रेलवे स्टेशन से मात्र २५ किमी दूर इस किले को देखने दूर दूर से पर्यटक यहा आते है | इस विशाल दुर्ग में पंच महल , शंकरगढ़ ,बरदारी है| रानी लक्छमी बाई के नियमित पूजा स्थल शिव मंदिर और गणेश मंदिर है जो मराठा स्थायपत्य कला के सजीव उदाहरण है |

Jhansi qila image

इसके अलावा इस दुर्ग में स्थित बिजली तोप भी है| दुर्ग के सबसे ऊँचे स्थान पर भारतीय तिरंगा लहराता है |जो देखने पर अत्यंत सुन्दर लगता है |, इसके अलावा आप झांसी में आप पारीछा बाँध , झांसी की महारानी का किला, विश्व प्रस्हिद्ध राम राजा का मंदिर ,ओरछा किला है |

झांसी में घुमने के लिए अत्यंत मनोहारी जगहे है | रेल और सड़क दोनों परिवहन मार्गो से यहाँ आसानी से पंहुचा जा सकता है |

5. ब्लू वर्ड थीम पार्क (कानपुर) blue word theme park

कानपुर में स्थित ये पार्क उत्तर प्रदेश की टॉप10 घुमने वाली जगहों में मुख्य स्थान रखता है | ओधोगिक नगरी कानपुर मे स्थित ये पार्क बहुत कम समय में ही पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बन चूका है | इस पार्क में बने हुए सुंदर झूले , वाटर राइडिंग , थीम्स पर होने वाले शो , अत्यंत मनोहारी है |

Kanpur blue world theme park

यु तो सभी वर्ग क लोग यहाँ आतेहै परन्तु युवा वर्ग यहाँ ज्यादा संख्या में आते है | जब भी आप यहा आये तो एक पूरा दिन आपको लग जाएगा | रेेलवे स्टेशन से ब्लू वर्ड पार्क केवल 24 किमी की दूरी पर स्थित है | यह पार्क भारत के सबसे बड़े थीम पार्क में गिना जाता है | इसके अलावा कानपूर में आपको पर्यटन क लिए मोतीझील, जे के मंदिर , सुधान्शु महाराज आश्रम, बिठूर, साईं मंदिर, आदि अनेक जगहे है|

6. बड़ा इमामबाडा (लखनऊ)

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ यूँ तो नवाबो का शहर कहलाती है| पर्यटन के लिहाज से भी लखनऊ अत्यंत महत्वपूर्ण स्थान है| पर्यटक यहाँ जब आते है तो बड़ा इमामबाडा जरुर जाते है | बड़ा इमामबाडा में ही विश्व प्रशिद्ध भूलभुलैया है |

दर्शक इस भूलभुलैया में खो जाते है कभी कभी तो इससे निकलने के लिए पर्यटकों को वहां के गाइड की मदद लेनी पडती है | बड़ा इमामबाडा विश्व धरोहर है इसका विशाल परिसर में बने सुंदर बगान और बाड पर्यटकों का मनमोह लेती है |इसे सन १७८४ में नवाब आसफ उद दोरानी ने बनवाया था |

bada imambada Lucknow image

ये इमामबाडा इरानी निर्माण शैली का सुंदर नमूना है| इस इमामबाड़े की ईमारत पर जाने के लिए कुल 84 सीढ़िया है| जिसे भुलभुलैया का भाग माना जाता है | इस इमामबाड़े में एक गहरा कूआँ और एक मस्जिद भी है

|इस भूलभुलैया में पर्यटक प्रतिध्वनि के माध्यम से 100 फीट की दुरी से भी फुसफुसाने की आवाज भी सुन सकते है| राजधानी में होने की वजह से यहाँ पहुचना अत्यंत आसान है| इसके अलावा पर्यटक घुमने के लिए मोती महल, अम्बेडकर पार्क,जनेश्वर पार्क,घंटाघर,रूमी दरवाजा भी जा सकते है |

7.श्री राम जन्म भूमि ( अयोध्या )

पर्यटकों को अगर हिन्दू धर्म के बारे में जानना है तो उन्हें एक बार श्री राम जन्म भूमि जरुर जाना चाहिए | सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के अनुसार अब उनके जन्म स्थान पर एक भव्य मंदिर बनाया जाएगा |

ये मंदिर भारत के सबसे भव्य मंदिरों में गिना जाएगा | अयोध्या का हिन्दू धर्म से विशेष नाता है, यहाँ मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान् श्री राम की जन्मस्थली मानी जाती है | हालाकि ये अयोध्या नगरी हमेशा विवादों में रही है |

Ayodhya images

आने वाले समय में देश ही नही विदेश से भी भारी मात्रा में पर्यटकों का रुझान बढेगा | यहाँ आकर अभी भी सनातन धर्म की महानता के दर्शन करते है | निकटम रेलवे स्टेशन फैजाबाद से मात्र 10 किमी की दुरी पर स्थित है| यहाँ सड़क,रेल, और वायु तीनो मार्ग से आसानी से पंहुचा जा सकता है |

8. चित्रकूट धाम ( चित्रकूट )

उत्तर प्रदेश के १० प्रमुख पर्यटन केन्द्रों में चित्रकूट धाम भी महत्वपूर्ण स्थान रखता है| चित्रकूट धाम उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के सीमा पर है| यह धाम भारत के सबसे प्राचीन धार्मिक तीर्थस्थलो में से एक है|

ये पर्यटन स्थल चारो और से विशाल पर्वत श्रखलाओ से घीरा हुआ है| ये स्थान प्रक्रति और ईस्वर की देन मानी जाती है | इस जगह पर आकर पर्यटक खुद को प्रकृति के सबसे निकट पाते है|

Chitrakoot images

कहा जाता है श्री राम जी ने अपने १४ वर्ष के वनवास में ११ वर्ष यही चित्रकूट में बिताए थे| यहाँ पर जंगलो में श्री कामतानाथ की परिक्रमा की जाती है जो ५ किमी लम्बी होती है | यहाँ का निकटम रेलवे स्टेशन कर्वी है | और सड़क परिवहन से भी आसानी से पहुंचा जा सकता है|

9.प्रेम मंदिर ( मथुरा )

हम उत्तर प्रदेश की प्रमुख 10 पर्यटन केन्द्रों में प्रेम मंदिर को भी स्थान दे रहे है, क्योकि ये मंदिर हमेशा से ही देश ही नही विदेशो से भी पर्यटन के लिए अच्छा माना जाता है | श्री कृष्ण की जन्मभूमि मथुरा है | कनिष्क वंश द्वारा स्थापित ये नगरी पर्यटकों का ध्यान आकर्षित करती रही है |

प्रेम मंदिर को जगद्गुरु कृपालु महाराज जी ने बनवाया | यह मंदिर वृन्दावन में बना हुआ है| पर्यटक यहाँ जरुर दर्शन करने आते है |

prem mandir mathura

११ वर्ष में तैयार हुए इस मंदिर में इटालियन संगमरमर का प्रयोग हुआ है |ये मंदिर प्राचीन शिल्पकला को जाग्रत करने का एक सुंदर नमूना है| इसे लगभग १००० शिल्पकारो ने मिलकर बनाया | यहाँ की आरती के समय बहुत जयादा भीड़ होती है |सड़क और रेल परिवहन से आसानी से यहाँ पंहुचा जा सकता है| मथुरा जंक्शन से इस मंदिर की दुरी मात्र १९ किमी है|

 

10. त्रिवेणी संगम ( प्रयागराज )

यु.पी. की टॉप 10 पर्यटन केन्द्रों में प्रयागराज का भी स्थान है| भारत की दूसरा सबसे प्राचीन नगर प्रयागराज में भारत की तीन नदियों गंगा यमुना और सरस्वती का संगम स्थल है | इसमें सरस्वती नदी अद्रश्य मानी जाती है जो जमीन ने नीचें प्रवाहीत होती है | वर्षा में यहाँ तीनो नदियों का संगाम साफ़ साफ़ देखा जा सकता है |ये पुण्य धार्मिक स्थल है |

Allahabad sangam sthan

यहाँ प्रति चार वर्षो में पवित्र् कुम्भ मेला लगता है| यहाँ देश ही नही अपितु विदेशो से भी पर्यटक इस पावन स्नान का शाक्छी बनते है| यहाँ स्नान करने से मनुष्य के सभी तकलीफों से मुक्ति मिल जाती है | यहाँ पर आप सड़क, वायु, और रेल तीनो परिवहनो से अत्यंत सरलता से पंहुचा जा सकता है|

तो दोस्तों ये रहे उत्तर प्रदेश के प्रमुख पर्यटन केंद्र आपको हमारा ये लेख कैसा लगा राय हमें जरूर दे.

हमारे अन्य लेख

मथुराू में घूमने लायक जगहें

अयोध्या में घूमने लायक प्रमुख पर्यटन केंद्र

बनारस में घूमने लायक जगहें

 

2 thoughts on “2020 में उत्तर प्रदेश के टॉप 10 पर्यटन केंद्र”

Leave a comment

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)