हाईकोर्ट के आदेश के बाद चार धाम यात्रा फिर से शुरू, श्रद्धालुओं के लिए बनाए गए नए नियम

चार धाम यात्रा फिर से शुरू श्रद्धालुओं के लिए बनाए गए नए नियम

उत्तराखंड में चार धाम यात्रा फिर से शुरू की गई है हाईकोर्ट के आदेश के बाद श्रद्धालुओं को विशेष रूप से कई नियमों को फॉलो करने के बाद भी चार धाम यात्रा के अनुमति होगी।

उत्तराखंड के निवासियों के लिए चार धाम यात्रा के अलग से नियम है जबकि उत्तराखंड राज्य के बाहर के निवासियों के लिए चार धाम यात्रा के लिए कई नियम बनाए गए हैं उनके बारे में जानते हैं कि क्या है नियम?

उत्तराखंड में चार धाम यात्रा

गंगोत्री यमुनोत्री केदारनाथ और बद्रीनाथ

चार धाम यात्रा के लिए जरूरी नियम

चार धाम यात्रा के लिए श्रद्धालुओं के लिए विशेष तौर पर नए नियम बनाए गए हैं जो भी श्रद्धालु चार धाम की यात्रा करना चाहता है उसे पहले स्मार्ट सिटी के पोर्टल पर रजिस्टर रजिस्ट्रेशन कराना होगा उसके बाद उसे देवस्थानम बोर्ड के पोर्टल पर भी जाकर अपना रजिस्ट्रेशन कराना होगा। दोनों साइड से ई पास डाउनलोड करना होगा। उत्तराखंड राज्य के निवासियों के लिए सिर्फ देवस्थानम बोर्ड के पोर्टल पर स्टेशन कराना होगा। और उत्तराखंड राज्य के बाहर के निवासियों के लिए स्मार्ट सिटी और देवस्थानम बोर्ड दोनों पर रजिस्ट्रेशन कराना होगा। इसके बाद ही उन्हें चार धाम यात्रा की अनुमति प्रदान की जाएगी।

3 राज्यों के श्रद्धालुओं के लिए अलग नियम

आंध्र प्रदेश महाराष्ट्र और केरल के राज्यों के श्रद्धालुओं के लिए दोनों वैक्सीन की दोस्त लगे होने के बावजूद भी 72 घंटे पहले के rt-pcr नेगेटिव टेस्ट भी होना जरूरी है। इन तीनों राज्यों के श्रद्धालुओं को अपने साथ दो पहचान पत्र भी साथ होना जरूरी है।

चार धाम यात्रा के लिए यहां बुक करें

http://smartcitydehradun.uk.gov.in

https://devsthanam.uk.gov.in

https://badrinath-kedarnath.gov.in

यहां पर होगी जांच

पांडुकेश्वर, ग्वालदम, गौचर,सोनप्रयाग, स्यांशु, धनोत्री, नगुड, पंडुआखाल, मोहनखाल, सीरोबगड़,

चार धाम यात्रा के लिए हेल्पलाइन नंबर

 0135559898

चार धाम यात्रा के विषय में संपूर्ण जानकारी

Leave a comment