पहाड़ों पर सुरक्षित ड्राइव कैसे करें

Table of Contents

पहाड़ों पर सुरक्षित ड्राइव कैसे करें (how to drive safely on mountains in Hindi)

पहाड़ों पर सुरक्षित ड्राइविंग कैसे करें और पहाड़ों पर ड्राइविंग करने संबंधी जरूरी टिप्स अक्सर लोग अपनी रोजमर्रा की जिंदगी से थक हारकर कुछ पल के सुकून के लिए पहाड़ों की यात्रा करते हैं। पहाड़ों की स्वच्छ हवा,प्राकृतिक सुंदरता को देखकर मन के साथ-साथ शरीर को भी नहीं तंदुरुस्ती हासिल होती है।

(how to drive safely on mountains in Hindi)
image credit by pixels

परंतु समतल जगह पर ड्राइविंग करने की अपेक्षा पहाड़ों पर ड्राइविंग करना बेहद चुनौतीपूर्ण होता है ।दोस्तों जब भी हम अपनी कार से ड्राइव कर रहे होते हैं तो इसके विषय में हमें विशेष तौर पर जानकारी होती है परंतु जब हम कभी किसी हिल स्टेशन की यात्रा पर होते हैं तो कई मामलों पर हम वहां के हालातों से अनभिज्ञ होते हैं।

इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको जानकारी दे देंगे देंगे कि पहाड़ों पर सुरक्षित ड्राइव कैसे की जाती है और पहाड़ों पर सुरक्षित ड्राइविंग करने संबंधी जरूरी टिप्स कौन-कौन से हैं जिनको फॉलो किया जाना बेहद जरूरी होता है। हम आपको कुछ ऐसे ही जरूरी टिप्स बताने जा रहे हैं जिनके माध्यम से आप पहाड़ों पर ड्राइविंग करने संबंधित टिप्स के विषय में जानकारी हासिल कर पाएंगे। तो आइए शुरू करते हैं।

पहाड़ों पर ड्राइविंग करने से पहले गाड़ी की सर्विसिंग करा लें

दोस्तों अगर आप पहाड़ों पर ड्राइविंग करने के लिए जा रहे हैं तो एक बात का विशेष तौर पर ध्यान रखें की गाड़ी पूरी तरह से सुरक्षित और सही होनी चाहिए। गाड़ी के सभी टायरों की भली प्रकार से जांच कर ले।

अपनी गाड़ी के सर्विस सेंटर पर जाकर गाड़ी की अच्छी प्रकार से सर्विसिंग आदि करवा लें। गाड़ी की सर्विसिंग कराते वक्त गाड़ी की हेडलाइट सर्विसिंग बैकलाइट इंडिकेटर और आदि भली प्रकार से दुरुस्त कर लें।

(how to drive safely on mountains in Hindi image )

पहाड़ों पर ड्राइविंग करते समय ब्रेक और गियर का ध्यान रखें।

पहाड़ों का ड्राइविंग करना समतल सड़कों पर ड्राइविंग करने की अपेक्षा बेहद कठिन कार्य होता है पहाड़ों पर ड्राइविंग करते समय ब्रेक और गियर का ध्यान विशेष तौर पर रखना होता है। इस बात का विशेष ध्यान रखें कार ड्राइविंग करने वाला व्यक्ति नौसिखिया ना हो।

पहाड़ों पर कार ड्राइविंग करते समय ब्रेक का इस्तेमाल कम से कम करना चाहिए विशेषकर अपनी गाड़ी को ज्यादा तेज गति से नहीं चलाना चाहिए। गियर का भी प्रयोग छोटे से छोटा करना चाहिए। आप अपनी गाड़ी को मध्यम गति से चलाएंगे तो आगे के वाहनों और पीछे के वाहनों को समुचित और भली प्रकार से देख सकते हैं।

पहाड़ों का ड्राइविंग करते समय कार का इंधन भरवा ले।

अगर आप अपनी कार से दोस्तों के साथ पहाड़ी रास्तों पर यात्रा करने का प्लान बना चुके हैं तो इस बात का विशेष ध्यान दें कि कार में इंधन भरपूर रूप से रखें। क्योंकि पहाड़ी रास्तों पर पेट्रोल पंप काफी कम मात्रा में होते हैं और ऊंचे नीचे रास्ते की होने की वजह से आपकी कार का माइलेज भी कम होता है।

इसीलिए बेहतर होगा कि आप अपनी कार का इंजन भरपूर रखें और अलग से इंधन अपनी कार में रखकर यात्रा कर सकते हैं। पहाड़ों पर ड्राइविंग करते समय एक बात का और विशेष ध्यान रखें कि रास्ते पर पड़ने वाले पेट्रोल पंप का विश्लेषण कर ले।

सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाले लेख

कोरोना काल में यात्रा करने सम्बन्धी जरुरी टिप्स

ऑनलाइन होटल्स रूम कैसे बुक करे ?

पैराग्लाइडिंग के रोमांचक सफर का आनंद ले भारत की इन खूबसूरत जगहों पर

(how to drive safely on mountains in Hindi)

पहाड़ों पर ड्राइविंग करते समय कार का टेंपरेचर चेक करते रहें

पहाड़ों पर ड्राइविंग करते समय कार का टेंपरेचर जरूर चेक करें। क्योंकि अक्सर पहाड़ों पर बने हुए रास्तों पर कार चलाते हुए कुछ स्पीड में होती है जिससे कि कार का टेंपरेचर नियमित तौर पर बढ़ता रहता है।

इसीलिए कार चलाते समय टेंपरेचर का ध्यान विशेष तौर पर रखें। पहाड़ों पर कार ड्राइविंग करते समय बेहतर होगा कि आप कार का एसी बंद रखें क्योंकि कार का एसी कार का टेंपरेचर तेजी से बढ़ा सकता है।

जरूरी सूचना

दोस्तों अगर आप कहीं घूमने का मन बना रहे हैं और फ्लाइट टिकट और होटल बुकिंग को लेकर असमंजस की स्थिति में हैं तो हम आपको सलाह देते हैं कि आप हमारी वेबसाइट पर दिख रहे हैं travelpayout के विज्ञापन पर जाकर सभी बड़ी कंपनियों के ऑफर और डांस देख सकते हैं और आसानी से आप अपना फ्लाइट टिकट और होटल बुक कर सकते हैं। आप चाहे तो हमारी वेबसाइट के साइड में और सबसे नीचे सो रहे travelpayout के विज्ञापन पर जाकर टिकट बुकिंग कर सकते हैं।

पहाड़ों पर ड्राइविंग करते समय आपात स्थिति के लिए तैयार रहें।

बिना कपड़ों के टाइपिंग कर रहे हैं तो कभी भी आपको किसी भी प्रकार की आर्थिक स्थिति का सामना करना पड़ सकता है। पहाड़ों पर लैंडस्लाइड की घटनाएं काफी अधिक संख्या में होती है इसके अलावा घुमावदार रास्ते भी पहाड़ों पर ड्राइविंग को अधिक खतरनाक बना देते हैं। इसीलिए बेहतर होगा कि आप ड्राइविंग करते समय किसी भी तरह की किस तरह की स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार रहें।

पहाड़ों पर ड्राइविंग करते समय हमेशा अपनी साइड चलें।

अगर आप पहाड़ों पर ड्राइविंग कर रहे हैं तो इस बात का विशेष तौर पर ध्यान देगी आप के कारण ऐसा अपनी साइड में रहे। पहाड़ों पर ड्राइविंग अधिक रोमांचकारी होने के साथ-साथ उतनी ही खतरनाक होती है यहां के घुमावदार रास्ते आपको भ्रम में डाल सकते हैं इसलिए हमेशा गाड़ी निर्धारित ही स्पीड में चलाएं और अपनी साइड पर ही रहकर गाड़ी चलाएं।

पहाड़ों पर ड्राइविंग करते समय ओवरटेकिंग से बचें।

पहाड़ों पर अगर आप ड्राइविंग कर रहे हैं तो इस बात का विशेष तौर पर ध्यान देगी ढलान और चढ़ाई वाले रास्तों पर ओवरटेकिंग बिल्कुल ना करें क्योंकि चढ़ाई वाले रास्तों पर सामने से आ रहे वाहनों की स्पीड अधिक होती है अगर आप ओवरटेकिंग करते हैं तो उसके पहले हॉर्न बजाकर और सामने से आ रहे वाहन की स्पीड आदि का विश्लेषण करने के पश्चात ही ओवरटेकिंग करें। 

पहाड़ों पर सुरक्षित ड्राइव कैसे करें
पहाड़ों पर गाड़ी चलाते समय हॉर्न और रोड सिग्नल का ध्यान रखें।

दोस्तों अगर आप पहाड़ों पर ड्राइविंग कर रहे हैं तो रोड सिग्नल का ध्यान बेहद जरूरी है। अगर आप रोड सिग्नल को फॉलो करते हुए ड्राइविंग करेंगे तो यह आपके लिए और आपके दोस्तों और परिवार के लिए बेहद सुरक्षित सफर हो जाएगा। और अगर आप रोड सिग्नल के साथ-साथ हॉर्न का भी प्रयोग अधिक मात्रा में करेंगे तो आप सुरक्षित ड्राइविंग कर सकते हैं।

पहाड़ों पर ड्राइविंग करते समय नशीली या मादक पदार्थों का सेवन ना करें

अक्सर जय बाबा अपने दोस्तों के साथ किसी हिल स्टेशन की यात्रा पर होते हैं तो शराब का सेवन आदि कर लेते हैं। परंतु या आपके और आपके दोस्तों के लिए जानलेवा हो सकता है। पहाड़ों पर ड्राइविंग करना बेहद कठिन और चुनौतीपूर्ण कार्य होता है इसके लिए आप का स्वस्थ होना बेहद जरूरी है। अगर आप किसी भी मादक पदार्थ का सेवन करके का ड्राइविंग करते हैं तो बहुत संभव है कि आप किसी दुर्घटना का शिकार हो जाएंगे। इसीलिए पहाड़ों पर ड्राइविंग करते समय शराब आदि का सेवन बिल्कुल ना करें।

पहाड़ों पर ड्राइविंग करते समय कार में ओवरलोडिंग ना करें

जी हां अगर अब्बा पहाड़ों पर ड्राइविंग कर रहे हैं तो इसका विशेष तौर पर ध्यान दें कि कार में जितनी सीटिंग हो उतना ही लोगों को बैठाए क्षमता से अधिक लोगों को ना बैठे हैं ओवरलोडिंग होने से कार ड्राइविंग करने में आपको असुविधा हो सकती है। ओवरलोडिंग पहाड़ों पर ड्राइविंग मुश्किल बना सकती है।

पहाड़ों पर सुरक्षित ड्राइव कैसे करें
पहाड़ों पर सुरक्षित ड्राइविंग करने संबंधित अन्य टिप्स
  • पहाड़ों पर ड्राइविंग करते समय हमेशा सीट बेल्ट का प्रयोग करें।
  • पहाड़ों पर गाड़ी पार करते समय हमेशा पहले गैर पर पार करें और हैंडब्रेक का प्रयोग करें।
  • अगर आप पहाड़ों पर ड्राइविंग कर रहे हैं तो रात के समय पहाड़ों पर ड्राइविंग करने से बचें।
  • पहाड़ों पर ड्राइविंग करते समय कार की स्पीड 50 किलोमीटर प्रति घंटा से 70 किलोमीटर प्रति घंटा के बीच में रखें या पहाड़ों पर ड्राइविंग करने की सबसे तेज स्पीड होती है।
  • पहाड़ों पर कार ड्राइविंग करते समय फोन और इंडिकेटर का प्रयोग अधिक से अधिक करें।
  • ड्रिंक करके कार ड्राइविंग बिल्कुल भी ना करें।
  • दोस्तों अगर आप पहाड़ों पर कार ड्राइविंग कर रहे हैं तो कार में बजने वाला म्यूजिक बहुत कम ध्वनि में बजाएं बहुत तेज ध्वनि में बजाने से आप पीछे और आगे आने वाले वाहनों के हानि की ध्वनि नहीं सुन सकते उससे आपको दुर्घटना का खतरा रहता है।
  • पहाड़ों पर कार ड्राइविंग करते समय एकाग्रता बनाए रखें।

 यह रही पहाड़ों पर सुरक्षित ड्राइविंग करने संबंधित टिप्स और महत्वपूर्ण जानकारियां हमें उम्मीद है आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा अपने दोस्तों को शेयर करना ना भूले जिससे कि उनको यह शानदार जानकारी प्राप्त हो सके।

दोस्तों अगर आप घूमने का शौक रखते हैं और घूमने वाली जगहों के बारे में जानना चाहते हैं तो आप हमारी वेबसाइट के माध्यम से भारत के कोने कोने के महत्वपूर्ण पर्यटन केंद्रों के बारे में जानकारी हासिल कर सकते हैं इसके साथ-साथ आप हमारी वेबसाइट के माध्यम से होटल बुकिंग और फ्लाइट टिकट भी बुक कर सकते हैं।

ये भी पढ़े

मोबाइल से ऑनलाइन रेलवे टिकट बुक कैसे करें?

वीजा क्या है ? वीजा के बारे में पूरी जानकारी

Leave a comment