रामघाट चित्रकूट के बारे में जानकारी- Information about ramghat chitrakoot

Ramghat image
Chitrakoot ramghat image credited by dreamstime
रामघाट चित्रकूट इमेज
रामघाट का सुंदर नज़ारा फ़ोटो साभार

रामघाट चित्रकूट में घूमने वाली प्रमुख जगहों में से एक हैं। जब भी कोई भक्त या पर्यटक चित्रकूट रेलवे स्टेशन पर उतरता है तो सबसे पहले वह रामघाट के लिए ही जाता है रामघाट से ही आपको चित्रकूट की सभी प्रमुख धार्मिक पर्यटन केंद्रों के लिए साधन उपलब्ध होते हैं। रामघाट एक बेहद खूबसूरत पर्यटन स्थल बन चुका है। आइए रामघाट के विषय में जानते हैं

रामघाट चित्रकूट

चित्रकूट धाम में स्थित रामघाट यहां के पवित्र और पावन पर्यटन स्थलों में से एक है। रामघाट मंदाकिनी नदी के तट पर बना हुआ है वर्तमान समय में या घाट बहुत अच्छी अवस्था में है वर्तमान सरकार के द्वारा पर्यटन क्षेत्र घोषित किया जा चुका है और यहां पर रखरखाव बेहद अच्छी स्थिति में हैं। क्या पूरा घाट पक्का पत्थरों का बढ़ा हुआ है जहां पर स्नान करने की भी सुविधा उपलब्ध है महिलाओं के कपड़े वस्त्र वगैरह बदलने से अलग से कमरे बनाए गए हैं।

मध्य प्रदेश में घूमने लायक जगह

चित्रकूट में घूमने लायक जगहें

कामतानाथ मंदिर के बारे में जानकारी

रामघाट नाम क्यों पड़ा?

रामघाट का नाम इसलिए पड़ा क्योंकि यहां पर भगवान श्री राम जी ने वनवास यात्रा के दौरान स्नान किया था। जिससे कि इस घाट का नाम राम घाट पड़ गया। राम घाट के समीप स्थित कामतानाथ मंदिर की परिक्रमा करने से पूर्व भक्त यहीं से स्नान करके कामतानाथ की परिक्रमा प्रारंभ करते हैं।

रामघाट के आसपास घूमने की जगह

रामघाट को इस प्रकार से बनाया गया है जहां पर पर्यटक कभी भी बोर नहीं हो सकता है। इन पक्के घाटों की दूसरी तरफ सजी हुई दुकानें सबको आकर्षित करती हैं इन दुकानों पर आपको अपनी जरूरत की सभी चीजें मिल जाती हैं इसके अलावा हाथ से बने हुए खिलौने और ज्वेलरी की दुकानें काफी अधिक संख्या में है। शाम के समय रामघाट का नजारा देखने लायक होता है यहां की आरती में शामिल होने के लिए दूरदराज से लोग आते हैं। हनुमान जी की विशाल प्रतिमा भी यहां के लोगों को आकर्षित करती है इसके अलावा आप मंदाकिनी नदी में वोटिंग का भी आनंद ले सकते हैं। नामों पर नाविक कबूतर और खरगोश रखकर पर्यटकों का मनोरंजन करते हैं यह देखने में बेहद ही सुंदर लगता है शाम के समय यहां पर विशेष प्रकार की सजावट दिखाई देती है चारों तरफ रंग बिरंगी रोशनी और नाव को की गई सजावट यहां के माहौल को खुशनुमा बना देते हैं।

रामघाट की आरती का समय

रामघाट में अगर आप आरती का दीदार करना चाहते हैं तो शाम को 6:00 बजे मां मंदाकिनी नदी और गंगा नदी की आरती की जाती है या आरती 5 या 6 जगहों पर अलग-अलग की जाती है। यह आरती देखने में बेहद ही सुंदर लगती है। आरती का दीदार करने के लिए लोग नाव की सवारी करके मंदाकिनी नदी के बीच से दोनों तरफ की आरती को देखकर रोमांचित हो उठते हैं। 

Image credited by dreamstime

चित्रकूट से रामघाट की दूरी

अगर आप चित्रकूट धाम कर्वी रेलवे स्टेशन उतरेंगे तो स्टेशन के बाहर से आपको ऑटो टेंपो टैक्सी वाले सीधा रामघाट ही उतारेंगे रामघाट से चित्रकूट धाम कर्वी की दूरी 12 किलोमीटर की है। वर्तमान समय में इस का किराया ₹20 प्रति व्यक्ति लिया जाता है।

रामघाट से करें खरीदारी

दोस्तों अगर आप रामघाट में घूम रहे हैं तो यहां की विशेष दुकानों पर खरीदारी करना ना भूले। यहां पर पूजन सामग्री की विशेष दुकानें हैं जहां पर जाकर आप कुछ ना कुछ जरूर खरीद लेंगे। इसके अलावा यहां पर ज्वेलरी और लकड़ी के बने हुए खिलौनों की भी दुकानें काफी अधिक संख्या में जो बच्चों को बेहद लुभाती है। और अगर आपको भूख लग जाए तो यहां पर खाने-पीने की भी दुकानें पर्याप्त मात्रा में है।

रामघाट में होटल्स और धर्मशालाएं

अगर आप चित्रकूट धाम की यात्रा पर हैं और होटल की तलाश कर रहे हैं तो हम आपको जानकारी दे दें कि रामघाट के आसपास कई होटल और धर्मशालाएं बनी हुई हैं इन धर्मशाला और होटल में आप अपनी मर्जी के हिसाब से रूम बुक कर सकते हैं। यहां धर्मशाला और होटल्स में प्रति व्यक्ति ₹300 से लेकर ₹3000 तक के कमरे उपलब्ध होते हैं।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*